ALL विशेष कविता सिंचाई समाचार कहानी पशुपालन कृषि बागवानी घाघ भण्डारी की कहावतें कृषि समाचार
सीतापुर में 11कोटेदारों पर गिरी गाज एफआईआर दर्ज ,2 हिरासत में
April 21, 2020 • डा. शरद प्रकाश पाण्डेय • समाचार

सीतापुर (सू0वि0) जिला पूर्ति अधिकारी संजय कुमार प्रसाद ने बताया कि जनपद में वैश्विक महामारी कोविड-19 के दृष्टिगत माह अप्रैल 2020 में नियमित आवंटन के सापेक्ष समस्त अन्त्योदय अन्न योजना एवं पात्र गृहस्थी योजना के राशन कार्ड धारकों को दिनांक 12.04.2020 तक खाद्यान्न का वितरण वितरण कराया गया था। इसके उपरान्त प्रधानमंत्री गरीब कल्याण अन्न योजना के अन्तर्गत जनपद सीतापुर के सभी अन्त्योदय कार्ड धारकों एवं समस्त पात्र गृहस्थी योजना के कार्ड धारकों को 05 किग्रा प्रति यूनिट की दर से निःशुल्क चावल का वितरण दिनांक 15.04.2020 से कराया जा रहा है। यह वितरण दिनांक 26.04.2020 तक होगा। इसके अन्तर्गत अन्त्योदय अन्न योजना के 95032 राशन कार्डों के 286556 यूनिट व पात्र गृहस्थी योजना के 653404 राशन कार्डों के 2687856 यूनिट कुल 748436 राशन कार्डों के 2974412 यूनिट पर 88.05 प्रतिशत वितरण हो चुका है।

 माह अप्रैल 2020 में नियमित खाद्यान्न एवं निःशुल्क चावल के वितरण में अनियमितता बरतने वाले 11 उचित दर विक्रेताओं यथा रीना देवी, ग्राम पंचायत अकसोहा, ब्लाक रेउसा, तहसील बिसवॉ, हरिशंकर तिवारी, ग्राम पंचायत मुईलाकला, ब्लाक व तहसील बिसवां, ममता देवी, उचित दर विक्रेता, ग्राम पंचायत सरैया मिर्जापुर ब्लाक बिसवॉ, रामनाथ, ग्राम पंचायत मानपारा, ब्लाक कसमण्डा तहसील सिधौली, रीमा देवी, ग्राम पंचायत रमद्वारी द्वितीय ब्लाक व तहसील महमूदाबाद, नेम कुमार, उचित दर विक्रेता, ग्राम पंचायत कनरखी, ब्लाक रामपुर मथुरा, तहसील महमूदाबाद, लक्ष्मण, उचित दर विक्रेता ग्राम पंचायत उमरी गनेशपुर ब्लाक रामपुर मथुरा तहसील महमूदाबाद, प्रहलाद कुमार, उचित दर विक्रेता, ग्राम पंचायत तुलसीपुर बंजर, ब्लाक रामपुर मथुरा तहसील महमूदाबाद, ओम प्रकाश, उचित दर विक्रेता, ग्राम पंचायत ताबिन्दानगर ब्लाक पिसावॉ तहसील महोली, अर्चना देवी, उचित दर विक्रेता, ग्राम पंचायत सेमरावॉ, ब्लाक व तहसील महोली एवं 01 अज्ञात व्यक्ति के विरूद्ध आवश्यक वस्तु अधिनियम-1955 की धारा 3/7 के अन्तर्गत प्रथम सूचना रिपोर्ट दर्ज कराई गई है। तहसील महमूदाबाद में 02 अम्युक्तिों को गिरफ्तार किया गया है। 10 उचित दर विक्रेताओं के अनुबंध पत्र निलम्बित, 02 उचित दर विक्रेताओं के अनुबंध पत्र निरस्त किए गए और रू0 62,000/-प्रतिभूति की धनराशि शासन के पक्ष में जब्त की गई है।