ALL विशेष कविता सिंचाई समाचार कहानी पशुपालन कृषि बागवानी घाघ भण्डारी की कहावतें कृषि समाचार
प्रदेश में  1269 ट्रेनों  से लगभग 17.47 लाख से अधिक प्रवासी कामगार एवं श्रमिक पहुंचे अपने -अपने घर 
May 23, 2020 • डा. शरद प्रकाश पाण्डेय • समाचार
 
उत्तर प्रदेश के अपर मुख्य सचिव गृह एवं सूचना ने बताया कि देश में सबसे अधिक प्रवासी कामगार उत्तर प्रदेश में आये हैं, जो कि एक रिकार्ड है। प्रदेश में अब तक 1269 ट्रेनों   के माध्यम से लगभग 17.47 लाख से अधिक प्रवासी कामगार एवं श्रमिक को लाये जाने की व्यवस्था की गई है, इनमें से अब तक 1018 ट्रेनोंसे 13.54 लाख लोगों को प्रदेश में लाया जा चुका है। उन्होंने बताया कि अगले 24 घंटे में 178 ट्रेनों और प्रदेश में आ जायेगी। सभी जनपदों के जिलाधिकारी द्वारा सम्बंधित जनपदों में ट्रेनों से आ रहे प्रवासी कामगारों,श्रमिकों का स्वास्थ्य परीक्षण कराकर उनको उनके घर तक पहुंचाया जा रहा है। उन्होंने बताया कि गोरखपुर में अब तक 163 ट्रेनों से 2,00,247 कामगार एवं श्रमिक आये हैं। लखनऊ में 75 ट्रेनों के माध्यम से 96,479 लोग आए हैं। वाराणसी में 67, आगरा में 10, कानपुर में 15, जौनपुर में 76, बरेली में 10, बलिया में 47, प्रयागराज में 44, रायबरेली में 18, प्रतापगढ़ में 44, अमेठी में 13, मऊ में 27, अयोध्या में 31, गोण्डा में 57, उन्नाव में 27, बस्ती में 49 ट्रेनों जबकि आजमगढ़ में 27, कन्नौज में 02, गाजीपुर में 16, बांदा में 15, सुल्तानपुर में 22, बाराबंकी में 10, सोनभद्र में 02, अम्बेडकरनगर में 18, हरदोई में 15, सीतापुर में 07, फतेहपुर में 07, फर्रूखाबाद में 01, कासगंज में 08, चंदौली में 09, मानिकपुर (चित्रकूट) में 01, एटा में 01, जालौन में 02, रामपुर में 01, शाहजहांपुर में 01, अलीगढ़ में 05, मिर्जापुर में 06, देवरिया में 51, सहारनपुर में 02, चित्रकूट में 02, बलरामपुर में 13, झांसी में 04, पीलीभीत में 01 ट्रेनों आ चुकी हैं। कौशांबी, श्रावस्ती, सिद्धार्थनगर, इटावा, कुशीनगर, हमीरपुर, बहराइच, लखीमपुर खीरी में भी ट्रेनों आ रही हैं। उन्होंने  बताया कि प्रदेश में गुजरात से 397 ट्रेन से 5,65,333 लोग, महाराष्ट्र से 213 ट्रेनों से 2,77,534 लोग, पंजाब से 171 ट्रेनों से 1,95,129 प्रवासी कामगारों/श्रमिकों को लेकर प्रदेश में आ चुकी हैं। इसके साथ ही तेलंगाना से 16, कर्नाटक से 3़6, केरल से 09, आन्ध्र प्रदेश से 04, तमिलनाडु से 13, मध्य प्रदेश से 02, राजस्थान से 31, गोवा से 09, दिल्ली से 59, छत्तीसगढ़ से 01, पश्चिम बंगाल से 01, उड़ीसा से 01ट्रेन तथा उत्तर प्रदेश से 54 ट्रेनों के माध्यम से प्रदेश के विभिन्न जनपदों में प्रवासी कामगारों,श्रमिकों को पहुंचाया गया है। उन्होंने बताया कि विभिन्न माध्यमों से लगभग 21 लाख से अधिक प्रवासी कामगार,श्रमिक अब तक प्रदेश में आ चुके हैं। उन्होंने कहा कि प्रदेश में कहीं भी, किसी भी जनपद में कोई पैदल यात्रा न करे। प्रवासी कामगार,श्रमिक स्वयं तथा अपने परिवार को जोखिम में डालकर पैदल अथवा अवैध व असुरक्षित वाहन से घर के लिए यात्रा न करें। सरकार समस्त प्रवासी श्रमिकों,कामगारों के लिए सुरक्षित यात्रा हेतु पर्याप्त निःशुल्क बस एवं टेªन की व्यवस्था कर रही है।