ALL विशेष कविता सिंचाई समाचार कहानी पशुपालन कृषि बागवानी घाघ भण्डारी की कहावतें कृषि समाचार
मधुमेह रोगियों के लिए लोबिया एक वरदान!
November 17, 2019 • डा. शरद प्रकाश पाण्डेय • विशेष


आधुनिक शोध से पता चलता है कि लोबिया का ग्लायसेमिक इंडेक्स अन्य फलियों वाली सब्जियों और दालों की तुलना में कम होता है, यानि डायबिटीज से पीड़ित रोगियों के लिए लोबिया एक वरदान है।
पेट में सूक्ष्मजीवी संक्रमण को रोकने में  बेहद सहायक
लोबिया में प्रचुर मात्रा में विटामिन-ए जैसे एंटीऑक्सीडेंट्स पाए जाते हैं, जो बीमारियों से लडने में सक्षम होते हैं। शरीर के अनावश्यक पदार्थों और टॉक्सिन्स आदि को शरीर से बाहर फेंक निकालने के अलावा लोबिया पेट में सूक्ष्मजीवी संक्रमण को रोकने में भी बेहद सहायक है।
कोलेस्ट्रॉल नियंत्रण
लोबिया कोलेस्ट्रॉल की मात्रा को कम करने में बहुत सहायक है। लोबिया में कई महत्वपूर्ण फ्लावेनोइड्स और महत्वपूर्ण तत्व जैसे पोटैशियम और मैग्नीशियम के अलावा साइटोस्ट्रोजिन जैसे लिग्निन आदि पाए जाते हैं, जो दिल की बीमारियों के इलाज के लिए कारगर हैं, क्योंकि इनमें कोलेस्ट्रॉल नियंत्रण की अद्भुत क्षमता होती है।
वजन कम करना
लोबिया में अपेक्षाकृत कम कैलोरी पाई जाती है, जिससे इसे कैलोरी पर ध्यान रखकर शरीर का वजन कम करने वालों के लिए महत्वपूर्ण माना जाता है। इसमे जबरदस्त मात्रा में डाइटरी फाइबर भी पाए जाते हैं, जो आपके पाचन और पेट सफाई का खयाल रखने के साथ भूख कम करने में भी सहायक है।
बेहतर पाचक
लोबिया के फाइबर और प्रोटीन भोज्य पदार्थों को जल्द से जल्द पचाने में सहायक होते हैं। पाचन ठीक करने के अलावा लोबिया के फाइबर पेट से जुड़ी अनेक समस्याओं को दूर रखने में सक्रिय भूमिका निभाते हैं।
स्वस्थ त्वचा
इसके सेवन से शरीर की शुष्क त्वचा में निखार तो आता ही है, साथ में यह त्वचा की बाह्य मृत कोशिकाओं को शरीर से दूर करने में मदद करती है और त्वचा से जहरीले टॉक्सिन्स को दूर करने में मददगार है।