ALL विशेष कविता सिंचाई समाचार कहानी पशुपालन कृषि बागवानी घाघ भण्डारी की कहावतें कृषि समाचार
जिलाधिकारी कम्यूनिटी किचन, स्कीनिंग कैम्प, आश्रय स्थल, क्वारंटाईन  कैम्प का स्वयं निरीक्षण कर कमियों को तुरन्त दूर करें-श्रीमती रेणुका कुमार
April 11, 2020 • डा. शरद प्रकाश पाण्डेय • समाचार
प्रत्येक पाली में सभी विभागों के अधिकारियों की भी तैनाती सुनिश्चित हो- श्रीमती रेणुका कुमार
 
प्रत्येक पाली के नोडल अधिकारी को ठीक से ब्रीफ किया जाय - श्रीमती रेणुका कुमार
 
 
प्रदेश की अपर मुख्य सचिव, राजस्व श्रीमती रेणुका कुमार ने सभी मण्डलायुक्त एवं जिलाधिकारियों को निर्देश जारी करते हुये कहा है कि जनपदों में नोडल अधिकारी के रूप में ए0डी0एम0 स्तर के अधिकारी को कन्ट्रोल रूम का इन्चार्ज बनाया गया है। इस समय ए0डी0एम0 फील्ड वर्क में व्यस्त हैं और अक्सर सम्पर्क करने पर नोडल अधिकारी कन्ट्रोल रूम में उपस्थित नहीं मिल रहे हैं। ऐसी स्थिति में बेहतर होगा कि उचित वरिष्ठता के अन्य अधिकारियों को पालीवार कन्ट्रोल रूम का इन्चार्ज बनाया जाये ताकि उनकी प्रत्येक समय कन्ट्रोल रूम में उपस्थिति सुनिश्चित की जा सके। इसके अतिरिक्त कन्ट्रोल रूम में विभागों के सक्षम स्तर के अधिकारी की तैनाती भी प्रत्येक पाली में सुनिश्चित की जाये, जिसमें खाद्य एवं रसद, कृषि विपणन, दुग्ध, पशुपालन, स्वास्थ्य, समाज कल्याण, नगर विकास, श्रम तथा पुलिस आदि विभाग के अधिकारी अवश्य उपस्थित रहें ताकि आवश्यकता पड़ने पर किसी भी विषय से सम्बन्धित जानकारी अथवा समस्या का समाधान उचित तरीके से किया जा सके। 
श्रीमती कुमार ने कहा कि एकीकृत आपदा प्रबन्धन केन्द्र किसी भी समय वीडियो कान्फ्रेंसिंग के माध्यम से जिला कन्ट्रोल रूम अथवा अन्य किसी स्थल जैसे-कम्यूनिटी किचन, अस्थाई स्क्रीनिंग कैम्प, आश्रय स्थल, क्वारंटाईन कैम्प के नोडल अधिकारियों से सम्पर्क कर सकता है। इस क्रम में निरन्तर कोविड-19 महामारी के परिप्रेक्ष्य में शासन द्वारा की जा रही कार्यवाहियों का अनुश्रवण किया जा रहा है। उन्होंने कहा कि जनपदों में संचालित हो रहे कन्ट्रोल रूम में आवश्यक सूचनाओं का अभाव है तथा नोडल अधिकारी मुख्यालय द्वारा मांगी जा रही सूचनाओं को देने में कठिनाई महसूस कर रहे हैं। ऐसी स्थिति में यह सुनिश्चित किया जाये कि कन्ट्रोल रूम में सभी सम्बन्धित अधिकारियों के दूरभाष नम्बर, कृषि उत्पादन आयुक्त, पुलिस, श्रम, नगर विकास, ग्राम्य विकास, राजस्व तथा अन्य विभागों द्वारा मांगी जा रही सूचना प्रत्येक अवस्था में नोडल अधिकारी के पास उपलब्ध हो। इसके अतिरिक्त प्रत्येक पाली के नोडल अधिकारी को ठीक प्रकार से ब्रीफ भी किया जाय, ताकि वह समस्त प्रकार की सूचनाओं से अवगत रहे। 
                        अपर मुख्य सचिव राजस्व ने कहा कि जनपदों में संचालित हो रहे कम्यूनिटी किचन, अस्थाई स्कीनिंग कैम्प, आश्रय स्थल, क्वारंटाईन कैम्प की सूचना नोडल अधिकारी की जानकारी में रहना अनिवार्य है। उन्होंने अधिकारियों को निर्देशित करते हुये कहा कि जनपदों में संचालित किये जा रहे कम्यूनिटी किचन का पता, नोडल अधिकारी का नाम व मोबाईल नम्बर तथा इसी प्रकार आश्रय स्थल, क्वारेंटाईन कैम्प का पता, संचालित कर रहे नोडल अधिकारी का नाम व मोबाईल नम्बर का विवरण कन्ट्रोल रूम के नोडल अधिकारी के पास उपलब्ध हो। 
                     उन्होंने बताया कि कम्युनिटी किचन व अस्थायी आश्रय स्थल के सुगम संचालन के बारे में माननीय मुख्यमंत्री जी द्वारा की गयी वीडियो कान्फ्रेंसिंग में भी स्पष्ट निर्देश दिये गये हैं कि समस्त जिलाधिकारी जनपद में स्थापित कम्यूनिटी किचन, अस्थाई स्कीनिंग कैम्प, आश्रय स्थल, क्वारंटाईन कैम्प में स्वयं जाकर निरीक्षण करें एवं इनमें पायी गयी कमियों को तुरन्त दूर करें।